धारचूला के खोतिला में बादल फटने से हुई भारी तबाही,आपदा में 65 वर्षीय महिला की मौत,नेपाल की ओर भी भारी तबाही

Advertisement
ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

पिथौरागढ़(उत्तराखंड)- धारचूला के खोतिला में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। जिसमें एक महिला की मौत के साथ ही 50 से ज्यादा मकान जलभराव के कारण डूब गए हैं। वहीं नेपाल के लस्का गधेरे में भी बादल फटने से नेपाल क्षेत्र में भी काफी नुकसान की खबर है। कई मकान पानी के तेज बहाव में जमीदोज हो गए है। धारचूला से मकानों के तास के पत्तो की तरह पानी मे बहने की भयानक वीडियो सामने आया है। साथ काली नदी का जलस्तर बढ़ने से नदी किनारे मकानों के साथ ही गोशालाएं और निर्माण कार्य मे लगी जेसीबी मशीने भी डूब गयी है। 

Advertisement
Advertisement

धारचूला के तल्ला खोतिला गाँव में बादल फटने के कारण हुए जलभराव में 50 मकान ढूब गए हैं। घटना में  65 वर्षीय महिला पशुपति देवी पत्नी मानबहादुर की मौत हो गई है जिसके शव को रेस्क्यू कर लिया गया है । वहीं एलधारा में लगातार हो रहे भूस्खलन के कारण धारचूला के मल्ली बाजार सड़क में पानी और मलबा भर गया है। सड़क पर खड़े कई वाहन भी मलबे की चपेट में आए हैं।

Advertisement

जिला प्रशासन, एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0, फायर यूनिट की टीमों द्वारा लगातार राहत एवं बचाव कार्य किया जा रहा है। प्रशासन द्वारा प्रभावित क्षेत्र के लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया जा रहा है तथा उनके खाने-पीने और रहने की उचित व्यवस्था की जा रही है। धारचूला में काली नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। जिससे भारत-नेपाल झूलापुल के निकट गौशाला के क्षतिग्रस्त होने तथा कुछ जानवरों के बहने की सूचना भी आ रही है। प्रशासन ने लोगों को नदी किनारे ना जाने को अलर्ट किया है।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *